[ad_1]

ambani- India TV Hindi
Image Source : INSTAGRAM
ईशा अंबानी स्मिथसोनियन नेशनल म्यूजियम ऑफ आर्ट के बोर्ड ऑफ ट्रस्टी में शामिल

रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी स्मिथसोनियन नेशनल म्यूजियम ऑफ आर्ट के बोर्ड ऑफ ट्रस्टी में शामिल की गई हैं। बताया गया है कि ईशा के साथ साथ कैरोलेन ब्रीहम और पीटर किमेलियन के नाम भी बोर्ड के नए ट्रस्टी के रूप में घोषित किए गए हैं।

स्मिथसोनियन नेशनल म्यूजियम ऑफ आर्ट के बोर्ड ऑफ रीजेंट ने इन नई नियुक्तियों को अप्रूव करते  हुए बताया है कि ये सभी नियुक्तियां 23 सितंबर 2021 को की गई थी जो चार साल तक रहेंगी। 

आपको बता दें कि स्मिथसोनियन नेशनल म्यूजियम ऑफ आर्ट के 17 सदस्यीय बोर्ड में अमेरिका के चीफ जस्टिस और अमेरिकी उपराष्ट्रपति भी शामिल हैं।

इस बोर्ड में तीन सदस्य अमेरिकी सीनेट के हैं और तीन सदस्य यूनाइटेड स्टेट्स हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स की तरफ से हैं। नई नियुक्तियों के अलावा बोर्ड के चेयरमैन एंटोनी वेन एगवील का कार्यकाल भी 2023 तक बढ़ा दिया गया है।

स्मिथसोनियन नेशनल म्यूजियम ऑफ आर्ट विश्व प्रसिद्ध म्यूजियम है जिसके दरवाजे 1923 में खोले गए थे। इसकी अन्तराष्ट्रीय उपलब्धि ही है कि यहां विश्व की कलात्मक धरोहरें, कला और साहित्य को सहेज कर रखा गया है।

ईशा अंबानी Reliance Jio Infocomm Ltd (Jio) की निदेशक हैं, इसका मुख्यालय मुंबई में है। जियो भारत में ऊर्जा, पेट्रोकेमिकल, कपड़ा, खुदरा और डिजिटल सेवाओं में है। 2011 में स्लो इंटरनेट स्पीड देखने के बाद, उन्होंने 2016 में जियो को लॉन्च, जिसने एक ऑल-आईपी, ऑल-4जी वायरलेस टेलीकम्युनिकेशन सर्विसेज का निर्माण किया भारत में एक डिजिटल क्रांति की शुरुआत की। आज जियो दुनिया में अग्रणी मोबाइल डेटा बाजारों में से एक है।

ईशा अंबानी कई लेन-देन में प्रमुख वार्ताकारों में से एक थीं। ईशा फैशन पोर्टल Ajio.com के लॉन्च के पीछे की ताकत और इसकी देखरेख करती हैं। ईकॉमर्स उद्यम JioMart को भी ईशा देखती हैं। वह भारत के सबसे बड़े रिलायंस फाउंडेशन के निदेशक के रूप में भी काम करती हैं। 

विरासत, भारतीय कला को ऊपर उठाना और वैश्विक कला को भारत में लाना। कला तक पहुंच के लोकतंत्रीकरण के लिए प्रतिबद्ध, ईशा अंबानी को भारतीय कला से गहरा लगाव है और उस कला को नए दर्शकों तक पहुंचाने का जुनून है।

नई सदस्य के रूप में शामिल ईशा अंबानी Reliance Jio Infocomm Ltd (Jio) की निदेशक हैं। जियो भारत में ऊर्जा, पेट्रोकेमिकल, कपड़ा, खुदरा और डिजिटल सेवाओं में है। 2011 में स्लो इंटरनेट स्पीड देखने के बाद, उन्होंने 2016 में जियो को लॉन्च किया, जिसने एक ऑल-आईपी, ऑल-4जी वायरलेस टेलीकम्युनिकेशन सर्विसेज का निर्माण किया। यह भारत में एक डिजिटल क्रांति की शुरुआत थी। आज जियो दुनिया में अग्रणी मोबाइल डेटा बाजारों में से एक है।

फैशन पोर्टल Ajio.com और ईकॉमर्स उद्यम JioMart को भी ईशा देखती हैं। वह भारत के सबसे बड़े रिलायंस फाउंडेशन के निदेशक के रूप में भी काम करती हैं। 

रिलायंस फाउंडेशन के तले भारतीय कला को ऊपर उठाना और वैश्विक कला को भारत में लाना ईशा अंबानी का लक्ष्य है उन्हें भारतीय कला से गहरा लगाव है और वो भारतीय कला को नए दर्शकों तक पहुंचाना चाहती हैं।

Related Video



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.