[ad_1]

Health benefits of Vitamin B6: शरीर में अगर पोषक तत्वों की प्राप्ति सही से होती रहे तो शरीर हमेशा निरोग बना रहेगा. हालांकि ऐसा होता नहीं है. भागदौड़ भरी जिंदगी में हमारा लाइफस्टाइल बुरी तरह से प्रभावित हुआ है जिसके कारण अक्सर हम किसी न किसी पोषक तत्वों की कमी से जूझते रहते है. विटामिन बी कॉम्पलेक्स शरीर का महत्वपूर्ण पोषक तत्व है. विटामिन बी कॉम्पलेक्स में बी 6 शरीर को हेल्दी रखने के लिए प्रमुख विटामिन है. विटामिन बी 6 को पाइरोडॉक्सिन (pyridoxine) भी कहते हैं. पाइरोडॉक्सल 5 फॉस्फेट -पीएलपी (Pyridoxal 5’ phosphate -PLP) विटामिन बी 6 का मुख्य रूप और कोइंजाइम है. यह पीएलपी सौ से ज्यादा एंजाइम को उनके काम में मदद करता है.

विटामिन बी 6 ब्रेन हेल्थ और इम्यूनिटी को मैंटेन करने में मदद करता है. यह शरीर को कई बीमारियों से बचाता है. हाल ही में हुए एक अध्ययन में यह भी पाया गया है कि विटामिन बी 6 की पर्याप्त मात्रा कैंसर के जोखिम को कई गुना कम कर देती है. आइए जानते हैं विटामिन बी 6 से शरीर में क्या-क्या फायदे हैं.

इसे भी पढ़ेंः साल 2021 में इन देसी सुपर फूड का विदेश में भी रहा जलवा, जानिए इनके फायदे

विटामिन बी 6 के फायदे

कैंसर के जोखिम को कम करता है
खून में विटामिन बी 6 की सही मात्रा होने से कैंसर का जोखिम बहुत कम हो जाता है. हालांकि विटामिन बी 6 कैंसर के जोखिम को किस प्रकार कम करता है, इस बारे में अभी पूरी तरह से वैज्ञानिकों को पता नहीं है लेकिन माना जाता है कि विटामिन बी 6 एंटी इंफ्लामेटरी होता है, इसलिए यह कैंसर के कई प्रकारों से शरीर की रक्षा करता है.

हार्ट को हेल्दी रखता है
हार्वर्ड मेडिकल जर्नल के मुताबिक पीएलपी के सक्रिय होने से ही प्रोटीन, कार्बोहाइड्रैट और फैट शरीर में जाकर टूटता है और विभिन्न कामों को करने के लिए तैयार होता है. विटामिन बी 6 खून में होमोसाइटिन ( homocysteine) के स्तर को मैंटेन करता है. होमोसाइटिन के स्तर बढ़ जाने से हार्ट अटैक का जोखिम बढ़ जाता है. अगर खून में विटामिन बी 6 की सही मात्रा हो तो खून की धमनियों में चिपचिपा पदार्थ जमा नहीं हो पाता है. इससे हार्ट डिजीज का जोखिम बहुत कम हो जाता है.

इसे भी पढ़ेंः सर्दी में क्यों हो जाती है विटामिन डी की कमी, जानिए किनको है ज्यादा खतरा

महिलाओं के लिए काम की चीज
विटामिन बी 6 महिलाओं के लिए बड़े काम की चीज है. अगर महिलाओं के खून में विटामिन सी की मात्रा सही हो तो यह पीरियड्स से पहले होने वाले दर्द (premenstrual syndrome, or PMS) को कम करता है. इसके अलावा प्रेग्नेंसी में महिलाओं को होने वाली मतली से भी बचाता है. इसके अलावा विटामिन बी 6 खून की कमी भी नहीं होने देता है.

इन चीजों में होता है विटामिन बी 6
टूना, सेलमोन मछली, फोर्टिफाइड सेरल, केला, पिश्ता, स्प्रॉउट, एवोकाडो, मसूर की दाल, अंडा, संतरे, पपीता, हरी पत्तीदार सब्जियां, खरबूजा आदि.

Tags: Health, Lifestyle

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.