[ad_1]

Bathing And Skin Health: शरीर को स्वस्थ रखने के लिए हर रोज नहाना चाहिए. रोजाना नहाने से शरीर की गंदगी (Dirtyness) दूर होती है और कई रोगों से बचाव भी होता है. लेकिन सवाल ये है कि दिन में कितनी बार नहाना चाहिए? कई लोग मानते हैं कि दिन में दो बार नहाना जरूरी होता है. एक बार सुबह उठने और दूसरी बार रात को सोने से पहले नहाना चाहिए. हालांकि एक्सपर्ट्स कि मानें तो दिन में दो या उससे ज्यादा बार नहाने से शरीर को नुकसान पहुंच सकता है. दरअसल नहाते वक्त स्किन पर बार-बार केमिकल प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने से त्वचा और बालों को काफी हद तक नुकसान पहुंच सकता है. आइए आपको बताते हैं दो बार नहाने से शरीर को कैसे नुकसान पहुंच सकता है.

बाल हो सकते हैं खराब
शैम्पू करने के बाद बाल बहुत अच्छे दिखने लगते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि बालों में बार-बार शैम्पू करने वह खराब हो सकते हैं. बालों को बार-बार धोने से वह ड्राई हो जाते हैं. हर बार जब आप अपना पसंदीदा शैम्पू लगाते हैं, तो यह आपके स्कैल्प को सूखा देता है. यह प्रतिक्रिया अधिक सीबम का उत्पादन करती है. यदि आपको रोजाना अपने बाल धोने की आदत है, तो सर में अधिक तेल का उत्पादन हो सकता है जिससे आपके बाल अधिक चिकने लग सकते हैं.

इसे भी पढ़ें : फ्लोरल दुपट्टे को इस तरह करें स्टाइल, हर ड्रेस लगेगा नया-नया

स्किन हो सकती है ड्राई
नियमित रूप से नहाना अच्छा होता है लेकिन बहुत अधिक साबुन का इस्तेमाल करना स्किन के लिए अच्छा नहीं होता. शावर जेल, साबुन और गर्म पानी त्वचा से स्वस्थ बैक्टीरिया और आवश्यक तेलों को हटा देते हैं. स्किन से निकलने वाले ये तेल त्वचा को लंबे समय तक यंग और ग्लोइंग रहने में मदद करते हैं. कुछ स्किन स्पेशलिस्ट खुजली और ड्राई त्वचा को रोकने के लिए सप्ताह में 2-3 बार स्नान करने की सलाह देते हैं.

डैंड्रफ का खतरा
कई शैंपू बालों को शाइनी और डैंड्रफ-मुक्त बनाने का दावा करते हैं, लेकिन उनका बहुत अधिक इस्तेमाल करने से बाल खराब हो सकते हैं. बालों को ज्यादा धोने से स्कैल्प में खुजली और जलन होने लगती है. इससे स्कैल्प में डैंड्रफ की समस्या भी होने लगती है. ऐसे में बालों के झड़ने की समस्या भी बढ़ सकती है.

स्किन हो सकती है अधिक संवेदनशील
लंबे समय तक गर्म पानी से नहाना साफ रहने और खराब कीटाणुओं को दूर रखने का एक स्वस्थ तरीका माना जाता है लेकिन शरीर को कुछ खास प्रकार के बैक्टीरिया के संपर्क में लाने से इम्यूनिटी मजबूत होती है और यह वायरस से अधिक प्रभावी ढंग से लड़ने में मदद करता है. बहुत अधिक बार नहाना त्वचा के माइक्रोबायोम को परेशान करता है, जिससे यह जलन महसूस करता है और फटा और लाल दिखाई देने लगता है. यह स्किन को बहुत अधिक सेंसेटिव बना देता है.

इसे भी पढ़ें : बनारसी साड़ी के साथ बालों को दें खास स्टाइल, फंक्‍शन में हर किसी की नजर रहेगी आप पर

बालों को सुलझाना हो सकता है मुश्किल
शॉवर के ठीक बाद अपने बालों को ब्लो-ड्राई करने से फ्रेश-आउट-ऑफ-द-सैलून लुक मिल सकता है, लेकिन इसे रोज़मर्रा की आदत बनाने से बाल खराब हो जाते हैं. बालों को बार-बार धोने से बाल ड्राई हो जाते हैं और टूटने लगते हैं. जब आपके बाल कमजोर होते हैं और आसानी से टूट जाते हैं, तो उन्हें ब्रश करना और स्टाइल करना कठिन हो जाता है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.