[ad_1]

Air Pollution impacts Performance: हमारी धरती पर वायु प्रदूषण (Air Pollution) का असर लगातार बढ़ रहा है. इसके चलते हमें कई बीमारियों और स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. अब एक नई स्टडी के मुताबिक वायु प्रदूषण का असर बच्चों की मेंटल हेल्थ पर भी पड़ रहा है, जिससे उनके ज्ञान संबंधी प्रर्दशन पर असर हो रहा है. दैनिक जागरण अखबार में छपी न्यूज रिपोर्ट के मुताबिक, ब्राजील में हुई इस स्टडी में पता चला है कि वायु प्रदूषण का संबंध छात्रों के संज्ञानात्मक प्रदर्शन (Cognitive Performance) से होता है. सरल शब्दों में कहें तो वायु प्रदूषण का असर छात्रों की एजुकेशन से जुड़ी परफॉर्मेंस पर पड़ता है. ये स्टडी जर्नल आफ द एसोसिएशन आफ एनवायरनमेंटल एंड रिसोर्स इकोनामिस्ट्स में प्रकाशित कई गई है.

इस स्टडी के राइटर जुलियाना कार्नेइरो (Juliana Carneiro), मैथ्यू ए कोल (Matthew A. Cole) और एरिक स्ट्रोबल (Eric Stroble) ने ब्राजील में ओजोन और पार्टिकुलेट मैटर (पीएम10) की सांद्रता (concentration) के डाटा की स्टूडेंट्स के एग्जाम के मार्क्स के साथ कंपेरेटिव स्टडी की.

कैसे की गई स्टडी
वायु प्रदूषण का यह डाटा ब्राजील की प्रमुख इंडस्ट्रियल सिटी रियो डी जेनेरियो (De Janeiro) और साओ पाउलो (Sao Paulo) पर बेस्ड था, ये स्टडी 2015-17 के बीच जुटाए डाटा के विश्लेषण के आधार पर की गई है. रिसर्चर्स ने इन 3 सालों में एग्जाम्स के दो खास दिनों के वायु प्रदूषण के डाटा को लिया और उसी दिन आयोजित परीक्षाओं के परिणामों के साथ उसका तुलनात्मक अध्ययन (कम्पेरेटिव स्टडी) किया. साथ ही इन शहरों में पीएम10 का लेवल और हवा के बहाव के डाटा को भी रिकार्ड किया.

यह भी पढ़ें- स्किन को यंग बनाए रखने के लिए जरूरी है खुश रहना, जानिए कैसे

यह आया सामने
इस स्टडी में एग्जाम के दिन पीएम10 की 10 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर (मिलीग्राम/एम3) की वृद्धि से छात्रों के स्कोर में 6.1 अंक (आठ प्रतिशत एसडी) की कमी आती है. रिसर्चर्स ने स्टडी में पाया कि उनके निष्कर्ष इस बात के स्पष्ट साक्ष्य प्रस्तुत करते हैं कि वायु प्रदूषण का असर छात्रों के संज्ञात्मक या ज्ञानात्मक प्रदर्शन पर पड़ता है.

कैसे हुई पुष्टि?
रिसर्च करने वालों ने अपनी स्टडी एयर पॉल्यूशन और स्टूडेंट्स के परफॉर्मेंस बीच रिलेशन की पुष्टि करने के लिए प्लेसबो परीक्षण (placebo test), संवेदनशीलता की जांच (Sensitivity test) और फाल्सफिक्शंस टेस्ट (falsification test) भी किए और इसमें स्पष्ट रूप से सामने आया कि एग्जाम में स्टूडेंट्स के परफोर्मेंस पर एयर पॉल्यूशन का भी प्रभाव पड़ता है.

यह भी पढ़ें- प्रकृति से जुड़ी गतिविधियां आपकी मेंटल हेल्थ को रखती हैं फिट: रिसर्च

अलग-अलग पड़ता है असर
आपको बता दें कि इससे पहले की स्टडी में यह सामने आ चुका है कि एग्जाम्स में एयर पॉल्यूशन के असर से छात्राओं की तुलना में छात्र अधिक प्रभावित होते हैं. यह नई स्टडी बताती है कि अमीर छात्रों की तुलना में गरीब छात्र वायु प्रदूषण के प्रति अधिक संवेदनशील होते हैं. रिसर्चर्स का कहना है कि हमारी स्टडी के नतीजे ये भी साफ करते हैं कि इसका असर अलग-अलग छात्रों पर अलग-अलग पड़ता है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.