[ad_1]

Vastu Tips: कई ऐसे काम (Work) हैं जिनको करने का समय तय होता है. दादी-नानी के जमाने से ही उन कामों को खास समय पर करने की सलाह दी जाती रही है. हिन्दू धर्म और वास्‍तु (Vastu) शास्‍त्र में भी कई ऐसे काम हैं जिनको समय से जोड़ कर देखा जाता है. मसलन कुछ काम सूर्योदय (Sunrise) के बाद तो कुछ काम सूर्यास्‍त (After Sun Set) से पहले करने की सलाह दी जाती है. तो आज हम आपको बताते हैं कि कौन से काम आपको सूरज ढलने के बाद यानी सूर्यास्‍त के बाद नहीं करनी चाहिए.

मान्यता के अनुसार अगर ऐसा किया जाता है तो घर में रोग, शोक और संकट (Problem) पैदा हो सकते हैं. यही नहीं, ज्‍योतिष के मुताबिक ऐसा करने से देवी लक्ष्मी भी रूठ जाती हैं. तो आइए जानते हैं कि किन कामों को सूरज ढलने के बाद नहीं करना चाहिए (Things to avoid after sunset)

1. नाखून और बाल काटना

सूरज ढलने के बाद नाखून और बाल नहीं काटना चाहिए. यही नहीं, शेविंग करने से भी बचना चाहिए. ऐसा करने से घर में निगेटिव एनर्जी का वास होता है. यह भी माना जाता है कि ऐसा करने से घर पर कर्ज बढ़ता है.

ये भी पढ़ें: Chhath 2021 Songs : छठी मईया के 5 पारंपरिक गीत जो बरसों से बसे हैं व्रतियों के जेहन में, यहां पढ़ें गानों के बोल

2. पेड़ पौधों को छूना या पानी देना

मान्‍यता है कि कभी भी सूर्यास्त के बाद पेड़ पौधों को छूना या उनके पत्ते तोड़ना नहीं चाहिए. यह भी माना जाता है कि उन्‍हें पानी भी रात के समय नहीं देना चाहिए. कहा जाता है कि सूर्यास्त के बाद पेड़ पौधे भी सो जाते हैं.

3. कपड़े धोना और सुखाना

सूर्यास्त के बाद कपड़े धोने से भी मनाही होती है. यही नहीं, शाम के बाद कपड़ा सूखाना भी गलत माना जाता है. मान्‍यता है कि ऐसा करने से आकाश की सारी निगेटिव एनर्जी कपड़ों में प्रवेश करती है और इंसान इन्‍हें पहनकर बीमार हो सकता है.

4. भोजन को खुला रखना

सूर्यास्त के बाद भोजन या पानी को खुला नहीं रखना चाहिए. इन्‍हें हमेशा ढककर ही रखना चाहिए अगर छोड़ दिया जाए तो इसमें निगेटिव एनर्जी का वास हो जाता है जिसे खाने से बीमार हो सकते हैं.

5. अंतिम संस्कार

पुराणों में कहा गया है कि सूर्यास्त के बाद अंतिम संस्कार नहीं करना चाहिए. ऐसा करने से मरने वाले को परलोक में कष्ट भोगना पड़ता है और अगले जन्म में वह अपंग पैदा हो सकता है.

6. दही या चावल का सेवन

पुराणों में सूर्यास्त के बाद दही का सेवन वर्जित माना गया है. इसी तरह सूर्यास्त के बाद चावल का सेवन भी नहीं किया जाता है.

ये भी पढ़ें: रविवार को सूर्यदेव की पूजा के बाद जरूर पढ़ें ये आरती, बढ़ेगी उम्र

7. दही का दान

दही का संबंध शुक्र ग्रह से है और शुक्र को धन वैभव का प्रदाता माना गया है. ऐसे में सूर्यास्त के समय या सूर्यास्त के बाद दही का दान करने से सुख-समृद्धि चली जाती है.

8. झाड़ू-पोछा

मान्यता है कि सूर्यास्त के बाद घर में झाड़ू-पोछा या साफ-सफाई नहीं करनी चाहिए. ऐसा करने से धन की हानि हो सकती है.

9. गोधुली बेला में सोना

सूर्यास्त के ठीक बाद यानी कि गोधुली बेला में नहीं सोना चाहिए. इस समय संभोग भी वर्जित माना जाता है. ऐसा करने से पति-पत्‍नी की सेहत पर प्रतिकूल असर पड़ सकता है. इस समय पूजा पाठ करने की बात की गई है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.