[ad_1]

Navaratri Foods: मां दुर्गा के विभिन्न रुपों की आराधना का नवरात्रि (Navratri) में विशेष समय होता है. यह नौ दिन माता के भक्तों के लिए बेहद खास होते हैं. मां की उपासना के लिए इस दौरान भक्तों द्वारा नौ दिनों तक उपवास रखा जाता है. कुछ भक्तों द्वारा नवरात्रि के प्रारंभ और अंतिम दिन व्रत रखा जाता है. आमतौर पर जब उपवास (Fasting) किया जाता है तो वह सिर्फ एक दिन का ही होता है, लेकिन नवरात्र में लगातार नौ दिनों तक उपवास करना सख्त अनुशासन का प्रतीक होता है. इन नौ दिनों में उपवास के दौरान ये भी एक बड़ा सवाल होता है कि शरीर में ऊर्जा बनाए रखने और भूख पर काबू करने के लिए क्या खाया जाए और क्या नहीं.
हम आपको बताने जा रहे हैं कि उपवास के दिनों में आपको क्या खाना चाहिए और किन चीजों से परहेज करना चाहिए. अगर आप पहली बार नवरात्रि का व्रत रख रहे हैं तो ये बात आपके लिए और ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाती है. फास्टिंग के दिनों में पोषण से भरपूर फलाहार लेकर आप माता की आराधना में मन को अधिक एकाग्र कर सकते हैं.

व्रत में इन चीजों का करें प्रयोग

– उपवास के दिनों में गेंहू के आटे का इस्तेमाल वर्जित होता है, विकल्प के तौर पर अरारोट का आटा, राजगीरा आटा, कुट्टू आटा, सिंघाड़े का आटा, साबूदाना आटा, समा चावल का उपयोग किया जा सकता है.
– व्रत के दौरान सभी तरह के फलों का सेवन किया जा सकता है. सामान्य तौर पर केला, अंगूर, संतरा, पपीता, खरबूजा का इस्तेमाल किया जा सकता है. इससे शरीर में पौष्टिकता मिलने के साथ ही वॉटर लेवल भी मेंटेन रहता है.

इसे भी पढ़ें: Tea Varieties: चाय के बिना अगर तरोताजा महसूस नहीं करते? इन 10 तरह की चाय के बारें में जरूर जानें
– उपवास के दौरान शकरकंद, गाजर, कच्चा केला, टमाटर, खीरा का भी प्रयोग किया जा सकता है.
– व्रत के दिनों एनर्जेटिक बना रहना एक बड़ी चुनौती होती है. ऐसे में आप चाहें तो ड्राई फ्रूट्स का इस्तेमाल कर सकते हैं. आप काजू, बादाम, पिस्ता, किशमिश, अखरोट को खाकर शरीर की ऊर्जा को बनाए रख सकते हैं. इसके अलावा मूंगफली दाना, खरबूज के बीज भी इस्तेमाल किए जा सकते हैं.
– उपवास के दौरान फलाहार के तौर पर फलों के बाद सबसे ज्यादा इस्तेमाल डेयरी प्रोडक्ट्स को किया जाता है. आप व्रत के समय दूध, दही, मक्खन, पनीर, घी का खाने में उपयोग कर सकते हैं. डेयरी प्रोडक्ट्स एनर्जेटिक बनाए रखने में काफी मददगार साबित होते हैं.
– उपवास के दौरान हर तरह के साबुत मसाले, सेंधा नमक, गुड़, जीरा, लाल मिर्च, अमचूर शहद का उपयोग मसाले के तौर पर किया जा सकता है. वहीं किसी भी डिश को बनाने के लिए घी, मूंगफली तेल, सनफ्लॉवर ऑयल का यूज कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें: Kele ki Tikki: इस नवरात्रि बनाएं कच्चे केले की टिक्की, ये है आसान रेसिपी

व्रत में इन चीजों से करें परहेज़

– गेंहू आटा, सूजी, बेसन, मैदा, चावल आदि का उपयोग व्रत के दौरान नहीं किया जाता है.
– नवरात्रि के नौ दिनों में खाने में प्याज, लहसुन का प्रयोग पूर्णत: वर्जित होता है.
– उपवास के दिनों में सादा नमक (सफेद नमक) भी नहीं खाया जाता है.
– व्रत के दौरान किसी भी तरह का नशा नहीं किया जाता है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.