[ad_1]

Tips To Save Money To Your Children : छोटी उम्र से ही अगर बच्‍चों (Child) को मेहनत करना (Hard Work) और मनी सेविंग (Money Saving) की वैल्‍यू (Value) को सिखाया जाए तो आगे चलकर ये कला बच्‍चों के काफी काम आती है. दरअसल कई बच्‍चों के माता पिता प्‍यार दुलार में बच्‍चों की हर बात मानते हैं और उनकी हर मांग पूरी करते हैं. लेकिन आपको बता दें कि ये आदत उन्‍हें आलसी और पैसों की समझ से दूर करती है. ऐसे बच्‍चे आगे जाकर ना तो मनी मैनेजमेंट अच्‍छी तरह से सीख पाते हैं और ना ही अच्‍छे प्‍लानर बन पाते हैं. तो आइए आज हम आपको बताते हैं कि बच्‍चों को ये दो स्किल सिखाने के लिए आपको क्‍या करना चाहिए. ये हैं पेरेंटिंंग के कुछ टिप्‍स (Parenting Tips).

1.पॉकेट मनी जरूर दें

पांच साल की उम्र से बच्‍चों को पॉकेट मनी जरूर दें. उन्‍हें यह तय करने दें कि वह पैसे को कैसे यूज कर सकते हैं. उन्‍हें एक समझ पैदा होगी कि छोटे अमाउंट और सेविंग अमाउंट को कैसे बढाया जा सकता है और इसकी क्‍या वैल्‍यू होती है. उन्‍हें सेविंग को खर्च करने का आइडिया दें.

इसे भी पढ़ें : पहली बार बने हैं पैरेंट्स तो न करें ये गलतियां, जानें खुश रहने के टिप्‍स

 2.पिग्गी बैंक का प्रयोग

अपने बच्चों को एक पिगी बैंक लाकर दें और उन्हें बताएं कि पॉकेट मनी में कुछ अमाउंट उन्हें इसमें डालना चाहिए. हर तीन महीने या छह महीने में पिगी बैंक खोलकर उन्‍हें बताएं कि रोज जमा किए गए पैसे से कितना अधिक सेविंग कर सकते हैं और बड़ी जरूरतों के लिए खर्च कर सकते हैं.

3.उनके साथ मनी गेम खेलें

आप वीडियो गेम, मोबाइल आदि के बदले अगर उनके साथ मोनोपॉली जैसे बोर्ड गेम खेलने के लिए वक्‍त निकालेंगे तो वे सेविंग करना, पैसों से संबंधित और बजटिंग करने के बारे में प्रैक्टिकली जान सकेंगे. ये उनके भविष्‍य में काफी काम आ सकती है.

4.ग्रॉसरी शॉपिंग पर ले जाएं

जब भी आप ग्रॉसरी शॉपिंग करने जाएं तो बच्‍चों को भी ले जाएं. उन्‍हे अपने पैसे खर्च करने दें. आप ऐसे में समझ पाएंगे कि बच्‍चे को पैसे की कितनी समझ है. अगर वे फालतू खर्च करते हैं तो आप उन्‍हें समझा सकते हैं.

यह भी पढ़ें: बच्चा अगर सोने में करे आनाकानी, तो अपनाएं ये उपाय

5.उदाहरण पेश करें

लेक्चर देने से अच्‍छा है कि उन्‍हें फाइनेंस और बजटिंग करने का भी मौका दें. उदाहरण के तौर पर बर्थडे पार्टी बजटिंग के लिए उन्‍हें 2000 रुपये दें और डेकोरेशन से लेकर फूड और केक का बजट बनाने दें. इस तरह वे बजटिंग सीख पाएंगे और बेहतर प्‍लानर बनेंगे. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.