[ad_1]

vastu tips - India TV Hindi
Image Source : INSTAGRAM/ JOURNEY_OF_GARDENING_
अपराजिता का फूल

वास्तु शास्त्र के अनुसार दशहरे के दिन अपराजिता देवी की पूजा की जाती है। इसके लिए दोपहर बाद ईशान कोण, यानी उत्तर-पूर्व दिशा में जाकर साफ-सुथरी भूमि पर गोबर से लीपना चाहिए और उसी जगह पर चंदन से आठ पत्तियों वाला कमल का फूल बनाना चाहिए। इस आकृति के बीच में अपराजिता देवी की पूजा करनी चाहिए। जबकि आकृति के दाहिनी ओर जया की पूजा करनी चाहिए और बायीं ओर विजया की पूजा करनी चाहिए। 

वहीं शमी पूजा की बात करें तो इसके लिए गांव के बाहर उत्तर-पूर्व दिशा में शमी के पौधे की पूजा करनी चाहिए। ऐसा करने से बाहरयात्राओं में किसी प्रकार की परेशानी नहीं आती। आप चाहें तो घर के बाहर शमी का पौधा लगा भी सकते हैं। इससे निगेटिव एनर्जी घर के अन्दर नहीं आ पाएगी।

पढ़े अन्य संबंधित खबरें- 

Vastu Tips: भगवान को भोग लगाने के तुरंत बाद करें ये काम, वरना पड़ेगा बुरा असर

Vastu Tips: इस दिशा में मुख करके जप करने से धन, वैभव और ऐश्वर्य की होती है प्राप्ति

Vastu tips: इस दिशा में मुख करके करें पूजा, बनी रहेगी सुख-शांति

Vastu Tips: बाथरूम बनवाते समय ध्यान रखें ये बातें, चमक उठेगा आपका भाग्य

Vastu Tips: बच्चों के स्टडी रूम को पेंट करने के लिए इन हल्के रंगों का करें इस्तेमाल, याददाश्त होगी तेज

Vastu Tips: डाइनिंग रूम में कराएं इस रंग का पेंट, इंटीरियर में लगा देंगे चार-चांद



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.