[ad_1]

Vitamin c benefits on skin:विटामिन सी (Vitamin c ) को आमतौर पर हमलोग इम्यूनिटी बूस्टर के रूप में ही ज्यादा जानते हैं लेकिन विज्ञान में यह बात साबित हो चुकी है कि विटामिन सी (Topical vitamin C) स्किन को जवां रखने के लिए सबसे जरूरी विटामिन है. यह स्किन को समय से पहले एजिंग की समस्या से छुटकारा दिलाता है, सूरज की रोशनी से रक्षा करता है और दाग, धब्बे, कील-मुंहासे से बचाने में मदद करता है. विटामिन सी का मतलब है कि इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स के गुण मौजूद हैं. यानी पॉल्यूशन, सूर्य की रोशनी आदि के कारण स्किन पर फ्री रेडिकल्स का जो हमला होता है, उनसे लड़ने के लिए सबसे पहले विटामिन सी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स आगे आते हैं और इनसे स्किन की रक्षा करते हैं. फ्री रेडिकल्स एक प्रकार से टॉक्सिन ही है. स्किन के लिए फ्री रेडिक्ल ही सबसे बड़ा दुश्मन है.

इसे भी पढ़ेंः Health benefits of fenugreek: सर्दी में स्किन और डाइजेशन के लिए बेहद फायदेमंद है मेथी

विटामिन सी के इस्तेमाल से झुर्रियां गायब हो जाती है
हार्वर्ड मेडिकल जर्नल के मुताबिक कुछ शोधों में यह बात साबित हो चुकी है कि विटामिन सी स्किन की झुर्रियों (wrinkles) को खत्म करने में बहुत कारगर है. एक अध्ययन में पाया गया कि रोजाना तीन महीनों तक विटामिन सी के इस्तेमाल से चेहरे और गर्दन से झुर्रिया गायब हो गई जबकि स्किन का ऑवरऑल टेक्स्चर बहुत बढ़िया हो गया. विटामिन सी सूर्य की अल्ट्रावॉयलेट किरणों से भी स्किन की रक्षा करता है. एक अन्य अध्ययन में पाया गया कि विटामिन सी के साथ फेरुलिक एसिड और विटामिन ई ( ferulic acid and vitamin E) को मिक्स करके चेहरे पर लगाया जाए, तो चेहरे से लाल धब्बे भी हट जाते हैं.

इसे भी पढ़ेंः ऑर्गैज्मिक मेडिटेशन से ब्रेन फंक्शन में आता है जबर्दस्त बदलाव – नई स्टडी

कील-मुंहासों की समस्या से छुटकारा
विटामिन सी में एंटी-इंफ्लामेटरी गुण भी पाया जाता है, इस कारण यह स्किन के नीचे से आने वाले कुदरती तेल के उत्पादन में मदद करता है. विटामिन सी का चेहरे पर इस्तेमाल डार्क स्पॉट को खत्म कर देता है. एक क्लिनिकल ट्रायल में पाया गया कि दिन में दो बार चेहरे पर विटामिन सी का इस्तेमाल मुहांसे की समस्या को दूर कर देता है.

इन फूड से भी प्राप्त कर सकते हैं विटामिन सी
विटामिन सी सीरम में उपलब्ध होता है. कई ब्यूटी कंपनियां आजकर विटामिन सी सीरम को उपलब्ध कराने लगी है. कंपनियां इसे विभिन्न तरह से तैयार करती है. विटामिन सी सीरम को बनाते समय यह ध्यान रखा जाता है कि इसका पीएच लेवल 3.5 से नीचे न रहे. हालांकि विटामिन सी सीरम खरीदते समय अच्छी कंपनियां और भरोसेमंद दुकान से ही खरीदना चाहिए.

विटामिन सी के लिए डाइट
शरीर में कुदरती तरीके से भी विटामिन सी की मात्रा बढ़ाई जा सकती है. संतरे, हरी और लाल शिमला मिर्च, केल, ब्रोकली, पपीते, स्‍ट्रॉबेरी, अनानास, कीवी और आम में विटामिन सी खूब पाया जाता है. इन चीजों का सेवन न सिर्फ स्किन बल्कि ऑवरऑल हेल्थ के लिए बेहतर होता है. विटामिन सी दिल से संबंधित जटिलताओं को भी कम करता है. एनीमिया के इलाज के लिए विटामिन सी का इस्तेमाल किया जाता है. विटामिन सी की मदद से शरीर में पोषक तत्‍वों की कमी को पूरा कर बीमारियों से बचा जा सकता है.

Tags: Fashion, Lifestyle



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.