[ad_1]

गुलाब (Rose) कई ब्यूटी प्रोडक्टस और स्किन केयर रूटीन में इस्तेमाल किया जाता है। मगर क्या आप जानती हैं कि यह आपकी त्वचा के लिए ही नहीं बल्कि समग्र स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद है!

गुलाब का फूल और इसकी सुगंध सबका मन मोह लेती है। हर साल 22 सितंबर को वर्ल्ड रोज़ डे (World Rose Day 2021) के रूप में मनाया जाता है। यह दिवस कैंसर पेशेंट्स (Cancer Patients) और उनके साहस को समर्पित है। विश्व गुलाब दिवस उनके जीवन में खुशी लाने, उन्हें खुश करने और उन्हें यह याद दिलाने के लिए मनाया जाता है कि वे इस लड़ाई में अकेले नहीं हैं।

आज इस दिवस के उपलक्ष्य पर हम आपको गुलाब के सेहत से जुड़े फायदों के बारे में बताएंगे! चलिए जानते हैं इनके बारे में

1. वज़न घटाने में मदद करें

गुलाब की पंखुड़ियों में ऐसे यौगिक होते हैं, जो शरीर से विषाक्त पदार्थों (Toxins) को साफ करने के अलावा चयापचय में सुधार करते हैं, जिससे वजन घटाने में सहायता मिलती है। इसके अलावा, गुलाब की पंखुड़ियां (Rose Petals) खाने से आपकी इंद्रियां तृप्त हो जाती हैं और यह आपको अधिक खाने से रोकता है। इस प्रकार, आपको प्राकृतिक तरीके से वजन कम करने में मदद मिलती है।

rose water

2. तनाव और थकान दूर करे

जब आप किसी तरह का तनाव या थकान महसूस करती हैं, तो अनिद्रा, चिड़चिड़ापन या मूड स्विंग जैसी समस्याएं होने लगती हैं। गुलाब की पत्तियां या गुलाब का इत्र इस समस्या को दूर करने में आपकी मदद कर सकते हैं।

फिजियोलॉजी और पैथोलॉजी विभाग / पारा बा-कैक्सा विश्वविद्यालय (Department of Physiology and Pathology/LTF, University of Para ba-Caixa) द्वारा किए गए एक अध्ययन के अनुसार, गुलाब के एसेंस सूंघने पर शरीर में सिडेटिव प्रभाव (sedative effect) पैदा होता है। जो आपको रिलैक्स करता है।

3. पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद

गुलाब जल (Rose Water) पीने से पेट फूलने और पेट खराब होने के लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है। यह पित्त प्रवाह को बढ़ाकर पाचन में सुधार करता है। यह मल को ढीला करने और मल त्याग को बढ़ाने के लिए एक लेक्जेटिव (Laxative) के रूप में भी काम कर सकता है। इस प्रकार, यह कब्ज के लिए एक अच्छा इलाज हो सकता है।

4. मूड बूस्ट करे

यह अपने अवसादरोधी (antidepressant) और चिंतारोधी (anti anxiety) गुणों के लिए जाना जाता है। शोध में पाया गया है कि गुलाब की पंखुड़ियों का अर्क केंद्रीय तंत्रिका तंत्र को आराम दे सकता है, जिसके परिणामस्वरूप मूड बूस्ट होता है। यह भी माना जाता है कि यह नींद को प्रेरित करता है और मस्तिष्क को आराम पहुंचाता है।

rose day

5. यह प्रकृतिक कामोद्दीपक है

गुलाब न केवल प्यार का एक सार्वभौमिक प्रतीक है, बल्कि यह एक प्राकृतिक कामोद्दीपक भी है। आयुर्वेद के अनुसार, गुलाब की पंखुड़ियां हमारे शरीर में दो आवश्यक दोषों पर कार्य करके किसी व्यक्ति को यौन सक्रिय महसूस करने में मदद करने में बहुत प्रभावी होती हैं। साथ ही, यह हृदय, मन और तंत्रिका तंत्र को नियंत्रित करती हैं।

6. संक्रमण दूर करे और घाव भरे

इसमें एंटीसेप्टिक और जीवाणुरोधी गुण होते हैं, जो घावों को तेजी से भरने में मदद कर सकते हैं। ये गुण कट और जलन के इंफेक्शन को साफ करने और उससे लड़ने में मदद कर सकते हैं। वे कटने, जलने और यहां तक कि निशान को तेजी से ठीक करने में भी मदद कर सकते हैं।

जानिए आप अपनी सेहत के लिए कैसे इस्तेमाल कर सकती हैं गुलाब

आप गुलाब की पत्तियों की चाय बनाकर पी सकती हैं। आजकल बाज़ार में भी रोज टी (Rose Tea) मिलने लगी है।

गुलाब की कुछ पत्तियों को आप पानी में भी उबाल सकती हैं और इसके पानी का खाली पेट सेवन कर सकती हैं।

आप रोजाना गुलाब का इत्र लगा सकती हैं या इसका एसेंशियल ऑयल (Rose Essential Oil) का भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

सुबह खाली पेट गुलाब की कुछ पत्तियों को धोकर भी चबाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : Vitamin B12 : आपके स्वास्थ्य ही नहीं, स्किन को भी नुकसान पहुंचाती है इस जरूरी विटामिन की कमी

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.